स्वामी विवेकानंद युवा प्रोत्साहन योजना

युवा शकित को राष्ट्र के विकास में अवसर प्रदान करने के लिये प्रदेश के ग्रामीण क्षेत्रों में यह योजना लागू की गर्इ है। इस योजना में ग्रामीण क्षेत्र के 15 से 35 वर्ष के युवा समिमलित होंगे। ग्रामीण युवाओं में सामाजिक नेतृत्व विकसित करने, आधुनिक संचार सुविधाओं की पहुंच बनाने, युवाओं के व्यकितत्व के सर्वांगीण विकास हेतु उपयुक्त वातावरण निर्मित करने तथा युवाओ के बीच एकता की भावना विकसित करना इस योजना का मुख्य उददेश्य है। योजना वर्ष 2013-14 में रूपये 10.00 करोड़ का प्रावधान रहा है। जिसे जिला पंचायतों को आबंटित किया जा चुका है। योजना अंतर्गत वर्ष 2014-15 में राशि रूपये 10.00 करोड़ के विरूद्व राशि रूपये 5.00 करोड़ आबंटित किया गया है। इस योजना में युवाओं की पंजीकृत संख्या 123043 है।